लॉकडॉउन का फायदा उठा रहे खनन माफिया,बिना अनुमति खोद रहे दबंगता से धड़ेआम सरकारी मुरम।

प्रवीण पाठक देवरी – सागर जिले की देवरी तहसील के डोगर सलैया ग्राम में स्थित बिजली पावर प्लांट ट्रांसमिशन के पीछे सरकारी जमीन भटार पहाड़ी का अवैध रूप से आर एस आई नाम की कम्पनी जो देवरी से सिंगपुर सड़क का निर्माण का ठेका लिये है उसके द्वारा अवैध उत्खनन किया जा रहा है । वही मौजूद कम्पनी का इंजीनियर बालेंद्र सिंग से पूछने पर बताया गया कि तहसीलदार देवरी के यहां से परमीशन मिल चुकी है जबकि मध्यप्रदेश शासन के आदेश अनुसार सागर कलेक्टर द्वारा पूर्णतः अबैध उत्खनन पर प्रतिबंध लगाया गया है व स्पष्ट कहा गया हैं कि जहां पर भी उत्खनन होता है तो सख्त कार्यवाही की जाये उसके बाद भी खुले आम आर एस आई कम्पनी के ठेकेदार दीपक सींग राजपूत द्वारा अवैध उत्खनन कराया जा रहा है जानकारी मै आया है कि ठेकेदार भाजपा सरकार के किसी मंत्री पावर दिखाते है इनको किसी मंत्री का संरक्षण प्राप्त है जिनके दम पर खुले आम शासन के आदेश नियम को तोड़कर अबैध उत्खनन किया जा रहा है और प्रशासन चुप्पी साध के बैठा देख रहा है प्रश्न सबसे बडा यह उठता है कि कलेक्टर सागर के प्रतिबंध के बावजूद भी फिर कैसे परमीशन मिली पूरे मामले मै जब उत्खनन स्थल पर माजूद पत्रकार ने कलेक्टर सागर व देवरी एसडीएम सर को फोन किया गया तो मौके पर से पोकलिन मशीन को बेलको कंपनी की 200 मशीन और तीन डम्फर जिनमे एक डम्फर mp 04 gb 3145 व mp 18A 2556 व एक अन्य नंबर का डम्फर मौके से भा निकले गये । और भागने से स्पष्ट होता है कि ठेकेदार के पास कोई परमीशन नही थी इससे तो यही प्रतीत होता है कि प्रशासन की देखरेख में साठगाठ से अबैध खुदाई चल रही । पत्रकार द्वारा मौके स्थल पर करीब दो घंटे से ज्यादा समय इंतजार किया गया मगर प्रशासन का कोई भी कर्मचारी जांच के लिये नही पहुंचा मतलब यही है कि प्रशासन की साठगाठ से ही ठेकेदार व भू उत्खनन लोग लॉक डाउन का पूरा फायदा उठा रहे ऐसे ठेकेदारो को प्रशासन का किसी प्रकार का भय नही है वह कभी रात्रि के समय तो कभी दिन के समय खुदाई करते देखे जा रहे है ये बात तो आज की है ग्रामीणों ने बताया बहुत दिनों से अवैध खुदाई की जा रही है और प्रशासन कोई कार्यवाही नही कर रहा है।इस मामले में सम्बंधित के खिलाफ कार्यवाही न होना प्रशासनिक तंत्र की कार्यशैली को लेकर सवालिया निशान खड़ा करता है । वही कलेक्टर सागर व एसडीएम के आशवासन के बाद भी मौके पर टीम न पहुंचना प्रशासन पर सबसे बडा सवालिया प्रशन उठाता है साथ ही सागर कमिश्नर व अपर कलेक्टर सागर को भी उनके बाटसफ नंबर पर जानकारी दी गई थी मगर कोई कार्यवाही नजर नही आई व पूरे मामले मै ढीला साही दिखाई दी

इनका कहना है –

मेरे बाटसफ नंबर पर जानकारी भेजे मे कार्यवाही करवाता हूं

(दीपक सिंह कलेक्टर सागर )

अवैध मुरम खनन के मामले को लेकर पटवारी को मौका पर जांच के लिए भेजा गया है उसके बाद सम्बंधित के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी ।

(अमन मिश्रा एस डी एम देवरी )

मैरे द्वारा कोई परमीशन नही दी गई ठेकेदार द्वारा पांच मई को आवेदन किया गया था जो प्रतिवेदन एसडीएम सर को भेजा गया है वहां अभी प्रतिवेदन मौजूद है कोई परमीशन नही है अवैध उत्खनन किया गया है तो उस मामले में जांच कराकर सख्त कार्यवाही की जायेगी

(बिनीता जैन तहसीलदार देवरी )

बिना अनुमति खोद रहे दबंगता से धड़ेआम सरकारी मुरम

Loading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!