जिला मुख्यालय में पानी की बूंद बूंद को मसक्कत कर रहे आज भी वार्ड वासी।

1655900679577.jpg

भूमिका भास्कर संवाददाता अमन सिद्दीकी डिंडोरी की रिपोर्ट

जिला पंचायत डिण्डोरी नगर वासियो की समस्याओं का समाधान काम समस्याओं का अम्बार ज्यादा है।नगर पंचायत आप अपनी समस्या लेकर गये और नगर पंचायत के नुमाइंदों ने 10 समस्याये आप पर लादी, बस आप उनमें उलझे रहो अपनी समस्या भूल जाओ।नगर में सबसे बड़ी समस्या पानी की है। जिला मुख्यालय के मलैयाटोला के निवासियों ने आज सीएमओ को पत्र लिख अपनी समस्या से अवगत कराया कि आधे मुहल्ले में पानी आता है और आधे में नहीं, ये समस्या लंबे अरसे से बनी हुई है।मलैया टोला में टेकरी के ऊपर बहुत से मकान है जो पानी की समस्या से जूझते रहते है।वार्ड वासियो ने बताया कि आधे में मोटा पाईप डला है आधे में पतला इस लिये टेकरी के ऊपर बने मकानों में पानी नही आता,हालांकि दो दिनों में एक बार टैंकर जाता है,मगर उससे वार्ड वासियो की समस्या काम नही होती। जिला मुख्यालय में वार्ड वासी 1-1 किलोमीटर का फासला तय कर पानी के लिये जूझते है,मगर जिम्मेदारों को इससे कोई सरोकार नही,यदि आप शिकायत लेकर गये तो नगर परिषद के नुमाइंदे ये टेक्स पटाओ वो टेक्स पटाओ का पुछल्ला लगा उन्हें फसा देते है समस्याओं का हल नही।लगता है वास्तव में नगर पंचायत के पास हाल है ही नही? वरना दसको से बनी पानी की विकराल समस्या आज तक हाल हो गई होती। वहीं वार्ड वासियों ने बताया कि मलैयाटोला में स्थित पार्क के पास की गली में दोनों और बेसरम की झाड़ियों का अंबार हो गया है रात बिरात कीड़े मकोड़ो का डर बना रहता है।हर साल नगर पंचायत इन्हें साफ करा देती थी मगर इस साल अभी तक बेसरम की झड़ी नही कटी गई है,इस कारण कीड़े मकोड़ो का डर बना रहता है।

BigHost India Private Limited

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

----- विज्ञापन -----

Don`t copy text!